IG ka full form-आईजी का फुल फॉर्म क्या है

यदि आप पुलिस में भर्ती होने की दिलचस्पी रखते है या आप सामान्य रूप से पुलिस के IG पद के बारे में जानकारी लेना चाहते है तो यह आर्टिकल आपके लिए है. इस आर्टिकल में हम आपको बताएगे IG ka full form क्या है, IG कैसे बने, इसके लिए योग्यता क्या है और IG की सैलरी कितनी होती है आदि. सबसे पहले IG ka full form क्या है उसे समझते है.

ig ka full form
ig ka full form


IG ka full form 


IG ka full form Inspector general of Police होता है. जिसको हिंदी में पुलिस महानिरीक्षक कहा जाता है. यहां of police शब्द को देखकर काफ़ी लोग दुविधा में पड़ जाते है कि आखिर IG के साथ यह शब्द क्यों जोड़ा गया है, IG ka full form तो inspector general ही होना चाहिए? इसका उत्तर यह है कि IG को IGP भी कहा जाता है जो यह दर्शाता है कि IG पुलिस डिपार्टमेंट की एक पोस्ट है इसलिए इसके साथ of police शब्द जोड़ा गया है. इसके अतिरिक्त अन्य डिपार्टमेंट्स जैसे कि BSF, ICSF आदि में भी IG के पद होते है जिनके साथ डिपार्टमेंट का नाम जुड़ा होता है.

पुलिस डिपार्टमेंट में IGP का full form ही inspector general of police होता है. आप इस शब्द का उच्चारण IG करिए या IGP एक ही बात है.

IG कैसे बने? 


कोई भी परीक्षा पास करके सीधा IG नहीं बना जा सकता इसके लिए एक लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है और IG बनते-बनते काफ़ी समय लग जाता है लेकिन आपके अंदर प्रबल इच्छा और दृढ़ता है तो आपको IG बनने से कोई नहीं रोक सकता. IG बनने के दो तरीके है जो इस प्रकार हैं

1. UPSC exam 

2. PCS exam 

1. UPSC exam देकर IG बनें:- UPSC exam national level यानि राष्ट्र स्तरीय परीक्षा होती है जिसमें पूरे भारत से सम्बंधित प्रश्न पूछे जाते है. इस परीक्षा में बैठने के लिए आपकी योग्यता कम से कम graduation होनी चाहिए. UPSC में पूछे जाने वाले प्रश्न राष्ट्रीय स्तरीय होते है जिनको पास करने के बाद उमीदवार को सबसे पहले SP का पद मिलता है.

पुलिस अधिकारी बनने के बाद यदि किसी का लक्ष्य IG बनने का है तो सबसे पहले उसको 14 साल बतौर SP सेवा निभानी होगी तरक्की मिलने के बाद DIG का पद मिलता है. DIG पद पर 3 साल सेवा निभाने के बाद व्यक्ति को सरकार द्वारा IG का पद प्रदान किया जाता है.

PCS exam देकर IG बने:- PCS exam एक state level exam होता है जिसमें पूछे जाने वाले प्रशन राज्य स्तरीय होते है अर्थात इस परीक्षा में जिस राज्य से आप सम्बंधित है केवल उसी राज्य से जुड़े सवाल ही आपको पूछे जाएंगे. इस परीक्षा में बैठने के लिए भी उमीदवार की योग्यता कम से कम graduation होनी चाहिए. इस परीक्षा का pattern UPSC के सामान ही होता है. परीक्षा पास करने वाले  उमीदवार को सबसे पहले DSP का पद मिलता है.

DSP को 14 साल बाद तरक्की देकर SP का पद प्रदान किया जाता है. उसके बाद उमीदवार को 14 साल बतौर SP अपनी सेवा निभानी पड़ती है जिसके बाद जाकर व्यक्ति DIG बनता है और उसके 3 साल बाद IG का पद मिलता है.

स्टेट PCS exam बहुत लोगों के लिए आसान विकल्प जरूर है लेकिन इसमें UPSC के मुकाबले IG बनने में अधिक समय लगता है कुछ लोगों से नहीं भी बना जाता क्योंकि सेवा मुक्त होने का समय आ जाता है.

योग्यता (Qualification)


1. UPSC और स्टेट स्तरीय PCS exam में बैठने के लिए उमीदवार के पास किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक यानि graduation की डिग्री की होनी चाहिए. स्नातक डिग्री धारक की कितनी भी percentage हो वो इस परीक्षा में बैठ सकता है पर शर्त यह है कि वो पास होना चाहिए.

2. उमीदवार भारतीय होना चाहिए और वो किसी किस्म की जानलेवा बीमारी का शिकार नहीं होना चाहिए.

3. आईपीएस बनने के लिए उमीदवार की न्यूनतम उम्र 21 साल रखी गई है और उम्र सीमा जनरल और OBC, SC और ST के लिए अलग-अलग निर्धारित की गई है.

जनरल केटेगरी:- 21-32 वर्ष

OBC:- 21-32 वर्ष (तीन साल की छूट)

SC/ST:- 21-32 वर्ष (पांच साल की छूट)


IG Salary


सातवें पे कमीशन स्केल में IG पद पर सेवा निभा रहे व्यक्ति की सैलरी 1,44,200 रुपए निर्धारित की गई थी जो शायद ही किसी को कम लगे. हमारे मुताबिक पुलिस में काम करने वाले व्यक्ति के अंदर पैसों से अधिक राष्ट्र सेवा की भावना होनी चाहिए.

क्या IG का प्रमोशन होता है? 


अगर प्रमोशन की बात की जाए तो स्टेट PCS exam पास करने वालों में प्रमोशन के आसार ना के बराबर होते है क्योंकि PCS exam पास करने के बाद IG बनने के लिए उमीदवार को लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है जिसमें वो बड़ी मुश्किल से IG की पोस्ट तक ही पहुँच पाता है.

लेकिन अगर UPSC exam पास करके पुलिस में भर्ती हुए उमीदवार की बात की जाए तो उसको IG बनने के कुछ साल बाद ADGP का पद मिल जाता है.

Inspector general of police 


इंस्पेक्टर जनरल ऑफ़ पुलिस भारतीय पुलिस डिपार्टमेंट में तीसरा सबसे बड़ा पोस्ट है जिसके अंडर किसी राज्य के तीन जिले आते है अर्थात तीन districts की पुलिस का नियंत्रण IG के पास होता है. IG के ऊपर ADGP और DGP रैंक होता है और नीचे DIG पद होता है.

DGP ka full form 


DGP पुलिस डिपार्टमेंट का सर्वउच्च पोस्ट है जिसके अंडर पूरे राज्य की पुलिस काम करती है. DGP का फुल फॉर्म director general of police होता है जिसको हिंदी में DGP को पुलिस महानिर्देशक कहा जाता है और एक विशेष बात जो आपको पता होनी चाहिए वो यह है कि एक राज्य में केवल एक DGP पोस्ट ही होती है. जैसे मान लीजिए पूरे भारत में 29 राज्य है तो DGP भी 29 ही होंगे.

ADG full form 


ADG DGP से एक रैंक नीचे होता है. IG रैंक से प्रमोशन होने के बाद ADG का पोस्ट मिलता है जिसका अंग्रेजी में full form additional director general of police होता है. ADG को ADGP भी कहा जाता है. इसके साथ भी of police शब्द लगाया जाता है जिससे पता चलता है कि व्यक्ति पुलिस डिपार्टमेंट के ADG पोस्ट से सम्बंधित है.

DIG ka full form in Hindi 


DIG का फुल फॉर्म deputy inspector general होता है जिसको हिंदी में उप महानिरीक्षक कहा जाता है. DIG पद पर तैनात व्यक्ति IG के नीचे काम करता है. जैसा कि हमने ऊपर बताया है कि IG की तरह DIG की पोस्ट भी direct नहीं मिलती UPSC या PCS परीक्षा पास करने के बाद इसके लिए कुछ वर्षों का इंतज़ार करना पड़ता है.

DCP full form 


पुलिस डिपार्टमेंट में DCP का फुल फॉर्म deputy comissioner of police होता है जिसको हिंदी में उप आयुक्त कहा जाता है.

IPS ka full form 


IPS का फुल फॉर्म Indian police service होता है जिसको हिंदी में भारतीय पुलिस सेवा कहा जाता है. IPS बनने के राष्ट्रीय और राज्य स्तर पर ली जाने वाली परीक्षा UPSC या PCS में से एक पास करनी पड़ती है जिसके लिए कम से कम qualification graduation होनी चाहिए.

निष्कर्ष

इस लेख के माध्यम से अब आपको पता चल गया होगा IG ka full form क्या है, IG कैसे बना जा सकता है, IG बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए और एक IG पद पर तैनात व्यक्ति की salary क्या होती है. इसके साथ ही हमने आपको इस IG पद से जुड़े अन्य पोस्ट्स की जानकारी भी प्रदान की है तांकि उनके बारे में information ढूंढ़ने के लिए आपको कहीं और न जाना पड़े.आशा करते हैं आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा।

Post a Comment

0 Comments