अब सब्जियाँ भी हुई हिंदू-मुस्लिम, हिंदू आर्मी में कहा केवल हिन्दुओं से सब्जी खरीदें

भारत के मिडिया द्वारा फैलाया जा रहा Anti-minority प्रोपेगंडा अब भारत के बहुत सारे हिस्सों में दिखाई देने लगा है. हिंदू आर्मी ने घोषणा की है कि लोग केवल हिंदू सब्जी वाले से ही सब्जी खरीदें और मुसलमानों का पूरी तरह से बाईकाट कर दें. हिंदू आर्मी के एक कार्यकर्ता सुशील तिवारी का कहना है कि मुस्लमान सब्जी में थूक और गंदगी मिलाकर बेच रहे है इसलिए मुसलमानों से सब्जी ना लें. 


आपको बता दें कि देश में इस तरह का माहौल तब बना जब एक बजुर्ग मुसलमान का नकली वीडियो ट्विटर पर वायरल हुआ जिसमें किसी ने बजुर्ग सब्जी बेचने वाले मुसलमान पर आरोप लगाया कि वो बोतल में पेशाब करके सब्जी पर छिड़क रहा है लेकिन बाद में जब पुलिस मौके पर पहुंची तो ऐसा कुछ भी नहीं पाया गया. वीडियो को बाद में नेशनल मिडिया पर दिखाया गया जिसके बाद लोगों में मुसलमानों के प्रति नफरत भर गई. 

हिंदू आर्मी के सुशील तिवारी का कहना है कि हिंदू आर्मी अपने-अपने इलाके में सब्जी वाली सभी दुकानों बैनर बाँटेगी जिनपर सब्जी बेचने वाले का नाम, धर्म और अड्रेस लिखा होगा. इसके एलावा सभी दुकानों पर भगवा रंग के झंडे भी लगाए जाएंगे जिससे पहचान हो सके कि सब्जी बेचने वाला हिंदू है. सुशील कुमार का कहना है कि सब्जी खरीदने से पहले सब्जी बिक्रेता का आधार कार्ड देखकर उसके नाम की पुष्टि जरूर करें तांकि कोई मुसलमान लोगों को बेवकूफ ना बना पाए. 

मिडिया द्वारा मुसलमानों या किसी और अल्पसंखयक कौम की कोई झूठी अफवाह भी हो तो उसको हवा देकर पूरे देश में फैला दिया जाता है लेकिन जब कोरोना का कोई मरीज हिंदू धर्म से पाया जाता है तो पूरे देश का मिडिया उसका नाम छिपाने की कोशिश में लगा रहता है. इस तरह का वाक्य पंजाब में देखने में मिला जब शिव सैनिक हुक्का पार्टी करते हुए पकड़े गए और उनमें से अब तक 30 के करीब संदिग्ध व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव आ चुके है लेकिन मिडिया खबरों में उनके नाम गायब हैं. इसी तरह तब्लीगी जमात मामले में पुलिस द्वारा किए गए खुलासे के बाद 101 व्यक्ति हिंदू निकले जिस पर भारतीय मिडिया चुप्पी साधे बैठा है. 

Post a Comment

0 Comments